सीकर में यूरेनियम के संकेत

केंद्र सरकार का परमाणु ऊर्जा विभाग राज्य के चार जिलों में यूरेनियम की खोज कर रहा है। परमाणु ऊर्जा विभाग की ओर से सीकर, झुंझुनूं, भीलवाड़ा व उदयपुर जिले में यूरेनियम की खोज का कार्य जारी है। विभाग के वार्षिक प्रतिवेदन में बताया गया है कि सीकर जिले के रोहिल घाटेश्वर में यूरेनियम के अच्छे भंडार मिलने के संकेत हैं।

दूसरी ओर, भारतीय भू-वैज्ञानिक सर्वेक्षण विभाग की खोज में राज्य के कुछ क्षेत्रों में कीमती धातुओं के भंडार का पता चला है। इनमें सोना, चांदी, कॉपर, जिंक, सीसियम, रूबीडियम आदि शामिल हैं।

राज्य के खान विभाग की ओर से सोना, चांदी, तांबा, सीसा, जस्ता, प्लेटिनम, टिन, मोलिब्डेनम आदि खनिजों के पूर्वेक्षण का कार्य बांसवाड़ा, डूंगरपुर, उदयपुर, राजसमंद, पाली, सिरोही, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, अजमेर व जयपुर आदि जिलों में हो रहा है। पूर्वेक्षण में इन धातुओं के भंडार होने के संकेत मिले हैं, लेकिन यह पता नहीं लग सका है कि धातुओं के भंडार कितने और किस श्रेणी के हैं।

प्रीशियस स्टोन: राज्य में प्रीशियस स्टोन की खोज की गई है। अजमेर, भीलवाड़ा व टोंक जिले में जेम क्वालिटी गारनेट व एमरल्ड के लिए प्रारंभिक स्तर पर पूर्वेक्षण किया गया है। अजमेर-उदयपुर की टीखी बेल्ट में मूल्यवान रत्न पन्ना तथा टोंक जिले में गोमेद के भंडार मिलने के संकेत हैं।

* प्रदेश में यूरेनियम व मूल्यवान धातुओं की खोज का कार्य केंद्र एवं राज्य सरकार के अलावा बहुराष्ट्रीय कंपनियों की ओर से किया जा रहा है। खान विभाग को भी कई कीमती धातुओं के भंडार होने के संकेत मिले हैं।
-लक्ष्मी नारायण दवे, खान मंत्री

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *