बेटियों का सम्मान मेघालय से सीखें

बॉलीवुड स्टार प्रीति जिंटा को मेघालय में लड़कियों को मिलने वाले सम्मान और समाज में महिलाओं की पूछपरख ने बेहद प्रभावित किया है। प्रीति ने इस स्थिति पर खुशी जाहिर करते हुए कहा है कि दूसरे प्रांत के लोगों को मेघालय से कम से कम इस मामले में तो सबक लेना ही चाहिए।

यहां जाह्नू बरुआ की फिल्म ‘हर पल’ की शूटिंग के लिए आई प्रीति ने कहा कि मेघालय के सामाजिक रीति-रिवाज ऐसे हैं कि यहां महिलाओं को पुरुषों की बराबरी, और कहीं-कहीं तो ऊंचा दर्जा हासिल है। पूरा देश उत्तर-पूर्वी राज्यों की इस परंपरा से सीख सकता है।

मेघालय के खासी-जयंतियां और गारो आदिवासियों में तो वंश को महिलाओं के नाम से जाना जाता है। प्रीति ने कहा कि वे काफी अरसे से महिलाओं के अधिकारों और भ्रूण हत्या के विषय पर सामाजिक जागरूकता के प्रयास कर रही हैं।

यहां आकर उन्हें पता चला कि यह इलाका इस लिहाज से कितना विकसित है। प्रीति जिंटा के अलावा फिल्म की शूटिंग के लिए धर्मेंद्र और शाइनी आहूजा ने भी पिछले दस दिन से यहां डेरा डाला हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *